राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नाराज होकर रोक दिया अपना भाषण…

0
474

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद बुधवार को एक कार्यक्रम में नाराज हो गए। बीच में ही उन्होंने अपना भाषण रोक दिया। वह तकरीबन दो मिनट तक के लिए शांत रहे। सिर्फ इसलिए क्योंकि भाषण के दौरान वहां खाने के पैकेट बंट रहे थे। लोग उन्हें पाने के लिए धक्का-मुक्की कर रहे थे। जबकि, इसी हल्का-फुल्का शोर भी वहां हो रहा था। राष्ट्रपति को यह बात नागवार गुजरी। उन्होंने आयोजकों को ऐसा करने से मना किया। कहा कि भाषण पूरा हो जाने के बाद पैकेट बांटिएगा। राष्ट्रपति से जुड़ा यह वाकया महाराष्ट्र के अमरावती का है। वह यहां आचार्य नागार्जुन विश्वविद्यालय (एएनयू) में आए थे। विवि के शताब्दी सम्मेलन उद्घाटन सत्र में वह बोल रहे थे, तभी खाने के पैकेट आयोजकों ने बांटे थे। हालांकि, राष्ट्रपति के आग्रह के बाद लोगों ने उनकी बात मानी और फिर भाषण पूरा हुआ।

खाने के पैकेट बंटते देख राष्ट्रपति दो मिनट के लिए चुप हो गए थे। वे इस दौरान दर्शकों की ओर देख रहे थे। कार्यक्रमस्थल पर आयोजक तब लोगों को खाने के पैकेट दे रहे थे। राष्ट्रपति ने इस घटना को लेकर कार्यक्रम में कहा, “इकनॉमिक वर्ल्ड में जो हो रहा है…मैं वही तस्वीर इस कॉन्फ्रेंस में भी देख रहा हूं। मुझे लगता है कि कुछ खाने के पैकेट बांटे गए हैं। यह बेशक जरूरी है, लेकिन यह खुद व्यवस्था को अव्यवस्थित कर चुका है। लिहाजा मैं आयोजकों से दरख्वास्त करूंगा कि क्या इसे कुछ देर के लिए रोकेंगे।”

राष्ट्रपति कोविंद के यह कहने के बाद फौरन पुलिसकर्मियों और अधिकारियों ने हालात संभाले। उन्होंने वहां पर लोगों को दिए जा रहे खाने के पैकेट्स को बंटने से रोका। राष्ट्रपति ने इसके बाद ही अपना भाषण दोबारा शुरू किया था।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY