मोस्ट वांटेड हनीप्रीत तीन गाडिय़ों के साथ पहुंच गई नेपाल, नेपाल में देखी गई हनीप्रीत

0
10

लखनऊ । उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश तथा बिहार में तमाम नाकाबंदी के बाद भी मोस्ट वांटेड गुरमीत राम रहीम की सबसे बड़ी राजदार हनीप्रीत को नेपाल में देखा गया है। नेपाल में भूकंप त्रासदी के दौरान राहत शिविर लगाकर जमीन तैयार करने में सफल रहे डेरा सच्चा सौदा की अहम कर्ताधर्ता हनीप्रीत ने नेपाल में भेष बदल लिया है।

इस समय भारत की पुलिस की मोस्ट वांटेड हनीप्रीत नेपाल में देखी गई है। वहां पर हनीप्रीत के साथ तीन गाडिय़ों का काफिला था। हनीप्रीत की खोज में लगी हरियाणा पुलिस की बड़ी टीम नेपाल में जगह-जगह छानबीन कर रही है। हनीप्रीत नेपाल की पहाडिय़ों में नेपाली परिवारों के साथ छिपने की कोशिश कर रही है। नेपाल के घरों में छिपने के लिए हनीप्रीत मोटे पैसे खर्च कर रही है। संभवत: उसने हुलिया बदल कर खुद को नेपाली लड़की जैसा रूप देने की कोशिश भी की है।

हनीप्रीत के साथ चार और लोगों के भी होने की आशंका है। नेपाल और हरियाणा पुलिस ने अपनी कई टीमें पोखरा की तरफ रवाना कर दी हैं। नेपाल में पोखरा के पास डेरा सच्चा सौदा का नाम चर्चाघर भी है। इसे डेरे के आसपास पोखरा में हनीप्रीत के छिपे होने की आशंका है।

डेरा सच्चा सौदा के गुरमीत राम रहीम इंसा की गोद ली बेटी हनीप्रीत हरियाणा पुलिस की मोस्ट वांटेड लिस्ट में टाप पर है। हनीप्रीत नेपाल निकल गयी है जबकि बिहार के साथ उत्तर प्रदेश व उत्तराखंड में पुलिस हाई अलर्ट पर है। नेपाल और भारत के बीच बार्डर खुला हुआ है। नेपाल में जब भूकंप आया था तब राम रहीम गुरमीत ने वहां डेरा की ओर से राहत कार्य चलाया गया था। इसके बाद से वहां पर डेरा समर्थकों की मौजूदगी से इनकार नहीं किया जा सकता। समझा जाता है कि इन लोगों ने ही हनीप्रीत इंसा को नेपाल में छिपा रखा है।

साध्वियों से दुष्कर्म के मामले में राम रहीम को कोर्ट से दोषी ठहराए जाने के बाद हरियाणा में जो बवाल हुआ था उस सिलसिले में हरियाणा पुलिस ने 43 ‘वांटेड’ लोगों की फोटो अपनी वेबसाइट पर डाली हैं, जिनमें हनीप्रीत टाप पर है। डेरा के प्रवक्ता आदित्य इंसा का नाम भी वांटेड लिस्ट में है। इससे पहले हरियाणा पुलिस ने हनीप्रीत के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया था। हरियाणा पुलिस ने 25 अगस्त को पंचकुला में हुई हिंसा के वीडियो और फोटोग्राम पुलिस को सौंपने के लिए जनता और मीडिया से अनुरोध किया था। पुलिस ने अपने वेब पोर्टल पर जिन 43 लोगों की फोटो डाली है उन्हें लोगों और मीडिया से मिले वीडियो और फोटोग्राफ से ही चिन्हित किया गया है।

पंचकुला में हुई हिंसा में 35 लोगों की मौत हो गयी थी जबकि सिरसा में 6 लोगों की जान गयी थी। 43 लोगों को वांटेड लिस्ट में रखा गया है उनमें हनीप्रीत अकेली महिला है। इस बीच डेरा की एक साध्वी ने एक न्यूज चैनल को बताया है कि हनीप्रीत ‘बाबा’ की गोद ली हुई बेटी जरूर बतायी जाती थी, मगर वह दोनों पति-पत्नी की तरह एक ही कमरे में रहते थे।

जब कभी दोनों बाहर जाते थे तब भी दोनों एक ही कमरे में रहते थे। साध्वी ने यह भी बताया कि ‘बाबा’ जिस लड़की को पसंद कर लेता था हनीप्रीत उसे ‘बाबा’ तक पहुंचाने के काम में जुट जाती थी।

हनीप्रीत 25 अगस्त से फरार है। उस पर देशद्रोह व राम रहीम को अदालत से भगाने की कोशिश का आरोप है। राम रहीम फिलहाल रेप के मामलों में बीस साल की सजा काट रहा है। उस पर हत्या का मुकदमा भी चल रहा है। हनीप्रीत को आखिरी बार रोहतक में देखा गया था।

पंचकूला सेक्टर-5 थाना में दर्ज एफआईआर नंबर 345 में हनीप्रीत का नाम भी जोड़ा गया है। पहले इस एफआईआर में आदित्य इंसा और अन्य 4 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY