नरेन्द्र मोदी केबिनट के ‘दिग्गी राजा’ बने अल्फोंस

0
13

नई दिल्‍ली: कैबिनेट में शामिल हुए केंद्रीय पर्यटन राज्यमंत्री अल्फोंस कन्नाथनम, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए कांग्रेस की ‘दिग्गी राजा’ बनते नजर आ रहे हैं। पेट्रोल और डीजल की कीमत से त्रस्त लोगों पर बेतुका बयान देते हुए उन्होंने कहा कि पेट्रोल और डीजल खरीदने वाले लोग भूखे नहीं मर रहे हैं। पेट्रोलियम उत्पादों से मिलने वाला पैसा गरीबों के कल्याण के लिए निवेश किया जाएगा यह फैसला सरकार ने सोच समझकर लिया है। आपको बता दें कि 2012 के दौरान अक्सर कांग्रेस की दिग्गी राजा ऐसे ही बेतुके बयान देते हुए नजर आते रहे थे। जिसका खामियाजा पार्टी को 2014 में भुगतना पड़ा था।

पेट्रोल और डीजल खरीदने वालों को देना ही होगा टैक्स 
कन्नाथनम ने कहा कि हम यहां गरीबों के कल्‍याण, हर गांव में बिजली व्‍यवस्‍था को सुनिश्‍चित कराने, मकान व शौचालय बनाने के लिए यहां हैं। इन कामों में काफी अधिक लागत की जरूरत होगी। इसलिए हम उन लोगों पर टैक्‍स लगाने जा रहे हैं जो इसका भुगतान कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि पेट्रोल कौन खरीदता है, जिसके पास कार, बाइक होगा निश्‍चित तौर पर वह भूखा तो नहीं होगा। जो इसका भुगतान कर सकता है उसे करना होगा। राज्यमंत्री ने कहा कि जो लोग पेट्रोल और डीजल खरीद रहे हैं उन्हें टैक्स देना ही होगा। इसके अलावा उन्‍होंने विपक्षी पार्टी कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि यूपीए के कार्यकाल में जो भी पैसा सरकार को मिला, मंत्रियों ने खा लिया, चुरा लिया। सत्ताधारी पार्टी के लोग पचा गए।

पहले भी दे चुके हैं विवादित बयान
इससे पहले अल्फोंस ने बीफ को लेकर ऐसा बयान दिया था जिससे मोदी सरकार सवालों के घेरे में आ गई थी। उन्होंने कहा था कि भारत में कोई फूड इमरजेंसी नहीं लगी हुई है। भाजपा ने कभी भी बीफ खाने की मनाही नहीं की है। जैसे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रीकर ने कहा है कि उनके राज्य में बीफ खाया जाएगा, वैसे ही केरल में होगा। अल्फोंस का ये बयांन ऐसे समय में आया था जब पूरे देश में बीफ को लेकर बहस छिड़ी हुई थी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY