अमेरिका के इस कदम से बौखलाया उ. कोरिया, कीमत चुकाने की दी धमकी

0
8
हाल ही में उत्‍तर कोरिया द्वारा छठा परमाणु परीक्षण किए जाने से अमेरिका के सब्र का बांध का टूट पड़ा है। अब उसने उत्‍तर कोरिया पर लगाम लगाने के लिए यह कदम उठाया है।

सियोल, रायटर्स। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रतिबंध प्रयासों पर उत्तर कोरिया ने अमेरिका को परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है। सुरक्षा परिषद भारतीय समयानुसार सोमवार को देर रात उत्तर कोरिया पर ताजा कड़े प्रतिबंधों के लिए मतदान करेगी। इसमें सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्यों समेत कुल 15 देश हिस्सा लेंगे।

अमेरिका के प्रस्ताव में उत्तर कोरिया को तेल निर्यात और उसके टेक्सटाइल आयात पर प्रतिबंध लगाने का मुख्य बिंदु है। इसके अतिरिक्त उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के आर्थिक संसाधनों और यात्राओं पर प्रतिबंध लगाने का भी प्रस्ताव है। फ्रांस और ब्रिटेन के समर्थन वाले इन प्रस्तावों पर चीन और रूस को कुछ आपत्ति है।

माना जा रहा है कि कुछ संशोधनों के साथ यह प्रस्ताव पारित हो सकता है। इसके चलते तेल और गैस निर्यात में कटौती पर सुरक्षा परिषद में सहमति बन सकती है जबकि किम जोंग उन को प्रतिबंधों से दूर रखा जा सकता है। ये प्रतिबंध तीन सितंबर को उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण के विरोध में लगाए जाने का प्रस्ताव है। उल्लेखनीय है कि उत्तर कोरिया को प्रतिवर्ष करीब सवा पांच लाख टन कच्चे तेल की आपूर्ति चीन करता है जबकि रूस करीब 60 हजार टन तेल बेचता है।

उत्तर कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी के माध्यम से सरकार के प्रवक्ता ने कहा है कि प्रतिबंध के जरिये उसे दबाने की कोशिश की गई तो अमेरिका को परिणाम भुगतने होंगे। उत्तर कोरिया के पास अभी भी अपने दुश्मनों के खिलाफ और सटीक हमले करने के विकल्प मौजूद हैं। वह उनका भी परीक्षण कर सकता है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY