आईइडी बम डिफ्यूज करते शहीद हुए मेजर बिष्ट

0
270

पुलवामा में सीआरपीएफ के शहीद जवानों के पार्थिव शरीर घर ही पहुंचे थे कि एक और जवान के शहीद होने की खबर आ गई। जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में आईईडी बम डिफ्यूज करते वक्त ब्लास्ट होने से देहरादून निवासी मेजर चित्रेश बिष्ट शहीद हो गए।

आर्मी के 21-जीआर में अफसर चित्रेश की मौत उस समय हुई, जब वह एलओसी राजौरी के करीब मिले आईईडी बमों को डिफ्यूज कर रहे थे। पाकिस्तान की ओर से नौशेरा सेक्टर के लाम झंगड़ इलाके के सरैया क्षेत्र में चार बम लगाए गए थे। तीन बम चित्रेष बिष्ट डिफ्यूज कर चुके थे। लेकिन जब वह चौथा बम निष्क्रय कर रहे थे, तब ही वहां बड़ी तेज आवाज के साथ ब्लास्ट हो गया।

पुलवामा-जम्मू हमला: शहीद जवानों की संख्या बढ़कर 41, पीएम मोदी ने की कड़ी निंदा

आईईडी बम के इस ब्लास्ट से चित्रेश बुरी तरह जख्मी हो गए और उनका थोड़ी देर बाद उनकी मौत हो गई। वहीं इस दुर्घटना में एक अन्य जवान भी घायल हो गया, जिसे नजदीकी अस्पताल भेजा गया।
बता दें कि मेजर रैंक के चित्रेश बिष्ट के पिता एसएस बिष्ट देहरादून के कोतवाल रह चुके हैं। मुताबिक अगले माह मार्च में चित्रेश बिष्ट की शादी होने वाली
Iyuva की मुहिम राजनीति में युवाओं को 32% आरक्षण दिलाने और देश में विकास करने के लिए नीचे लिंक पर click कीजिएhttps://iyuva.org/ थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here