पिथौरागढ़ः कुटी गांव में बादल फटने से मची तबाही

0
1209

पिथौरागढ़ धारचूला के उच्च हिमालयी क्षेत्र के कुटी गांव में बादल फटने से तबाही मची है। नाले के उफान में आने से कुटी और ज्योलिंगकांग को जोड़ने वाला पुल बह गया। एक निर्माणाधीन विद्युत परियोजना को भी क्षति पहुंची है। पुल बहने से लगभग 12 चरवाहे जंगल में फंस गए हैं। हालांकि, आईटीबीपी की चौकियां और हेलीपैड सुरक्षित हैं। फंसे हुए लोगों के बचाव का काम आईटीबीपी कर रही है। आईटीबीपी के डीआईजी एपीएस निंबाडिया ने बताया कि आवागमन सुचारु न होने तक ग्रामीणों के लिए भोजन एवं अन्य प्रबंध आईटीबीपी की ओर से किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि अग्रिम चौकियों के जवानों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं। इधर,  पिथौरागढ़-तवाघाट, थल-मुनस्यारी समेत कई सड़कों पर शनिवार रात हुई तेज बारिश से भारी मात्रा में मलबा आ गिरा। जिससे सड़कें बंद हो गई। थल-मुनस्यारी सड़क रातापानी और बनिक में रात से बंद थी, सड़क दोपहर करीब एक बजे खुली मदकोट-मुनस्यारी सड़क भी घिंघरानी में बंद थी, जो दोपहर में खुली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here